जनपद क्षेत्र बकावंड- "मजाक बना दिया स्वच्छ भारत अभियान को"

Category: बस्तर Written by वेदांत झा Hits: 561

जगदलपुर: विकासखंड बकावड़ में स्वच्छ भारत अभियान मात्र एक खाना पूर्ति ही साबित हो रहा है. यह कहने में बिल्कुल ही संकोच नहीं होता है कि जनपद पंचायत बकावंड के लगभग अधिकांश पंचायतों में केंद्र सरकार की योजना स्वच्छ भारत अभियान का बहुत ही घटिया एवं शर्मनाक नजारा देखने को मिला.

बकावंड

जिसे हमारी टीम ने अपने कैमरे में कैद भी किया गांव वालो ने तो अपने क्षेत्र की समस्या मुखर होकर शौचालय ही नहीं होनें की बात कही, इसके अलावा बहुत सी और समस्याओं के बारे में बताया।
इस जनपद पंचायत क्षेत्र में समस्याओं का अंबार देखने को मिला।

  1. सडकें और पुल खस्ताहाल- इस क्षेत्र की सड़कें भी काफी जर्जर हो गई है. कुछ पुल तो बहुत अधिक क्षतिग्रस्त हो गए हैं, आप सभी को पता ही है बस्तर में कभी भी मूसलाधार बारिश हो सकती है. एवं पुनः बाढ़ की स्थिति निर्मित हो सकती हैं. जिसके फलस्वरूप सड़कों की देख रेख की अभाव में कही कुछ गांवों का पूरी तरह संपर्क न टूट जाएं, इन बातो का यही शासन प्रशासन और जन प्रतिनिधि यहाँ ध्यान नहीं देते है तो इसका दुष्परिणाम रहवासियों को ही भुगतना पड़ेगा.
  2. जीवनदायिनी पानी बीमारियों का कारण- जनपद पंचायत बकावंड क्षेत्र में बहुत से हैडपंप बिगड़े ही है और कुछ हैडपंपों में दूषित पानी भी आता है. बकावंडइसका सेवन कर ग्रामीण जन अनेक बीमारियों से जूझ रहे हैं, इस समाचार के माध्यम से यह बताया भी लाजिमी होगा कि क्षेत्र में नल जल योजना लगभग बैसाखी के सहारे चल रही है, कुछ ग्रामीणों ने बताया हमारे गांव में लाखों रुपये खर्च कर शासन द्वारा नल जल योजना के माध्यम से टंकी निर्माण एवं पाइप लाइन तो बिछा दिया गया लेकिन आज तक पानी सप्लाई नहीं की गई.
  3. राशन कार्डों की समस्या- इस जनपद पंचायत क्षेत्र में बहुत से गांव में अभी तक नए राशन कार्ड का वितरण भी नहीं किया गया है. जो कि बिल्कुल ही न्याय संगत नहीं है, यह एक सोचनीय विषय है. जनपद पंचायत बकावंड के बारे में यही विस्तार से चर्चा करें तो खामियां ही खामियां नजर आएगी कुछ बातों को छोड़कर.

बस्तर जिले में स्थित लोहंडीगुड़ा थाने के सामने जबरदस्त सड़क हादसा

देश का युवा अब खुले मंच पर करता है सरकार से सवाल

यहाँ क्लिक कर फेसबुक में अवश्य लाइक करें

 

शेयर करे...